Zero Sampeedyta || zero viscosity || शून्य सम्पीड्यता || शून्य श्यानता || Physics Solution || Ncert Solution - Rclipse Blog

Zero Sampeedyta || zero viscosity || शून्य सम्पीड्यता || शून्य श्यानता || Physics Solution || Ncert Solution


Zero Sampeedyta || zero viscosity
शून्य सम्पीड्यता || शून्य श्यानता

शून्य सम्पीड्यता :-
                     यदि तरल को दबाने पर उसके आयतन या घनत्व में कोई परिवर्तन नहीं हो तो इस गुण को शून्य सम्पीड्यता या असम्पीड्यता कहते है।
                       गैसों की अपेक्षा द्रव अधिक असम्पीड्य होते है।
शून्य श्यानता :-
                   तरल के प्रवाह में उसकी विभिन्न परतों के बीच आंतरिक घर्षण बल लगता है। द्रव या गैस के प्रवाह में आंतरिक घर्षण के इस गुण को श्यानता कहते है।

        1. आदर्श तरल के लिये श्यानता का मान शून्य माना जाता है।
        2. व्यावहार में कोई भी तरल श्यानता रहित नहीं होता है।
        3. गैसों में श्यानता द्रवों की अपेक्षा बहुत कम होती है।